Desh Deshantar: प्लास्टिक मुक्त भारत और चुनौतियां | Plastic free India and challenges

31,430 views | 1,125 likes
1 week ago

सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को खत्म करने की मुहिम की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मथुरा से देशवासियों को अपील की है कि वह 2 अक्टूबर 2019 तक अपने घरों, दफ्तरों को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त कर लें। प्रधानमंत्री मोदी ने साल 2022 तक देश को पूरी तरह से प्लास्टिक मुक्त बनाने की योजना रखा है। सिंगल-यूज प्लास्टिक सिंगल-यूज प्लास्टिक एक ऐसा प्लास्टिक जिसका उपयोग हम केवल एक बार करते हैं।एक इस्तेमाल करके फेंक दी जाने वाली प्लास्टिक ही सिंगल-यूज प्लास्टिक कहलाता है। इसे डिस्पोजेबल प्‍लास्टिक भी कहते हैं। बैवाटर रिसर्च के मुताबिक हर साल दुनियाभर में लगभग 300 लाख टन प्लास्टिक का उत्पादन होता है। इसमें से 130 लाख टन से ज्यादा प्लास्टिक समुद्र और नदियों में बहा दिया जाता है। आशंका जताई जा रही है कि वर्ष 2025 तक यह आंकड़ा बढ़कर 250 मिलियन यानी 25 करोड़ टन तक पहुंच सकता है।

Guests: Dr. Shiv Kumar Dube, Adviser, Research Project ,TERI
C. K. MISHRA, Secretary, Ministry of Environment and Forest and Climate Change, Govt of India,
Abhilash Khandekar, Senior Journalist,
Ajay Garg, Secretary, IPCA , Indian Pollution Control Association,

Anchor: Kavindra Sachan

Producer: Sagheer Ahmad

Related News

Live - Rajya Sabha TV
1 month ago
by Rajya Sabha TV
PM Modi's US visit: What to expect?
3 hours ago
by Rajya Sabha TV